Information About Tiger in Hindi | बाघ के बारे में रोचक तथ्य

Information About Tiger in Hindi | बाघ के बारे में रोचक तथ्य | tiger information in hindi | बाघ के बारे में जानकारी | tiger info in hindi | essay about tiger in hindi | 10 lines on tiger in hindi | tiger ke bare mein jankari hindi me

Information About Tiger in Hindi: भारत का राष्ट्रिय पशु बाघ है जिस कारन से बाघ को भारत में काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। बाघ अपनी सुंदरता, शालीनता, दृढ़ता, फुर्ती और अपार शक्ति के कारण लोगो के काफी पसंदीदा जानवरों में से एक है। आज इस information about tiger in hindi के आर्टिकल में हमलोग ऐसे अनेक बाघ के बारे में रोचक तथ्य के बारे में जानने वाले है जो शायद इससे पहले आपने कभी नहीं जाना हो।

Information About Tiger in Hindi (बाघ के बारे में रोचक तथ्य)

हिंदी नाम बाघ
बाघ का अंग्रेजी नाम Tiger (टाइगर)
बाघ का संस्कृत नामव्याघ्र (vyaghra)
बाघ का वेज्ञानिक नामPanthera Tigris (पैंथेरा टिगरिस)

भारत का राष्ट्रीय पशु बाघ (रॉयल बंगाल टाइगर) है। भारत के अलावा बांग्लादेश, म्यांमार देश का भी राष्ट्रीय पशु बाघ ही है।

बाघ एक जंगली जानवर है जो घने जंगलो में पाया जाता है। बाघ एक बहुत ही बड़ा, फुर्तीला और ताकतवर जानवर है। 

बाघ एक मांसाहारी जानवर है जो खुद शिकार करके खाता है। बाघ मरे हुए जानवरों को नहीं खाता है। 

बाघ हिरण, सूअर, भैस, ज़ेबरा आदि जंगली जानवरों का शिकार कर खाते है। बाघ प्राय: दो से तीन दिन में शिकार करते है और बाघ एक बार में 50 किलो तक मांस खा सकते है।

बाघ की देखने, सुनने और सूंघने की शक्ति बहुत ही तेज होती है यह 1 किलोमीटर दूर से ही अपने शिकार को सूंघ के पता लगा सकती है।

सामान्यत: एक बाघ की लम्बाई 12 से 13 फीट होती है और ऊंचाई 70 से 120 सेंटीमीटर तक होती है वही बाघ का वजन लगभग 300 किलोग्राम के आसपास होता है। तथा यह लगभग 65 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से दौड़ सकता है।

बाघ के शारीर का रंग लाल और पिलो रंगों का मिश्रण का होता है जिसमे काले रंग की धारियाँ होती है।

श्रीलंका, तिब्बत अंडमान निकोबार द्वीप समूह को छोड़ कर एशिया के अन्य भागो में बाघ पाए जाते है बाघों की अधिक संख्या भारत, भूटान, नेपाल, इंडोनेसिया और कोरिया में पाए जाते है।

पुरे दुनिया में बाघों की कुल आबादी का 70% से अधिक आबादी भारत में पाई जाती है।

बाघ ज्यादातर समय अकेला रहना पसंद करते है सिर्फ प्रजनन काल के दौरान नर और मादा बाघ एक साथ रहते है।

बाघ का गर्भघान काल लगभग साढ़े तीन महीने का होता है और यह एक साथ 3 से 5 शावको को जन्म देती है। मादा बाघ बच्चो के साथ रहते है। 

बाघ के शावक अपने माँ से शिकार करना सीखते है और दो से ढाई वर्ष बाद शावक माँ से अलग स्वतंत्र हो जाते है और खुद शिकार करके खाते है। एक स्वस्थ बाघ की आयु औसतन 19 वर्ष की होती है।

बाघ की दहाड़ काफी भयानक होता है एक बाघ के दहाड़ने की आवाज जंगल में 3 किलोमीटर दूर से भी सुना जा सकता है।

बाघ ज्यादातर पीछे से शिकार करते है और यह शिकार के गर्दन पर वॉर करते है ताकि शिकार का गर्दन टूट जाए और भागने के लिए बल ना लगा पाए और जल्दी मर जाए।

बाघ तैरने में भी काफी कुशल होते है और यह जगल के नदी को तैर के काफी आसानी से पार कर सकते है।

भारत में बाघों की 8 पप्रजातियाँ पाए जाते है जो की है रॉयल बंगाल, सुमात्रा, इंडो-चीन, कैस्पियन, आमूर या साइबेरियाई, दक्षिणी चीनी, जावा और बाली।

हर साल 29 जुलाई को पुरे विश्व में विश्व बाघ दिवस के रूप में मनाया जाता है।

यह भी जाने: Information About Owl in Hindi

राष्ट्रिय पशु बाघ पर निबंध (Essay about tiger in hindi)

बाघ हमारा राष्ट्रीय पशु है। बाघ एक मांसाहारी जानवर है जो बहुत ही बड़ा, फुर्तीला और ताकतवर होता है बाघ मरे हुए जानवरों को नहीं खाते है वह खुद शिकार करके खाते है। बाघ हिरण, सूअर, भैस, ज़ेबरा आदि जंगली जानवरों का शिकार करके खाते है। बाघ प्राय दो से तीन दिन बाद बाद शिकार करते है और एक समय पे 40 से 50 किलो तक मांस खा सकते है। बाघ की देखने, सुनने और सूंघने की शक्ति काफी तीव्र होती है यह अपने शिकार को 1 किलोमीटर दूर से ही सूंघ के पता लगा सकती है।

बाघ का शारीर लाल और पिलो रंगों के मिश्रण का होता है जिसमे काले रंग की लम्बी लम्बी धारियाँ होती है। एक स्वस्थ बाघ की लम्बाई 12 से 13 फीट और ऊंचाई 70 से 120 सेंटीमीटर तक होती है तथा इसका वजन लगभग 300 किलो के आसपास होता है। बाघ लगभग 65 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से शिकार करने के लिए अपने शिकार के पीछे दौड़ सकता है।

बाघ अपने जीवन का ज्यादातर समय अकेला रहना पसंद करते है सिर्फ प्रजननकाल के दौरान मादा और नर बाघ एक साथ रहते है। बाघ का गर्भघान काल लगभग साढ़े तीन महीने का होता है और यह एक साथ 3 से 5 शावको को जन्म देती है। मादा बाघ अपने बच्चो की देखभाल करते है। शावक अपने माँ के साथ लगभग दो से ढाई साल तक रहते है इस दौरान वह अपने माँ से शिकार करना सिखाते है और फिर वह स्वतंत्र होकर खुद शिकार करके खाते है। एक स्वस्थ बाघ की आयु लगभग 19 वर्ष तक होती है।

यह भी पढ़े: Information about monkey in hindi

बाघ के बारे में 10 वाक्य हिंदी में (10 lines on tiger in hindi)

1- बाघ एक जंगली जानवर है जो घने जंगल, घास के मैदान और दलदली इलाके में रहना पसंद करता है।

2- बाघ भारत का राष्ट्रिय पशु है। भारत के अलावा बांग्लादेश, म्यांमार देश का राष्ट्रीय पशु बाघ ही है।

3- बाघ एक मांसाहारी जानवर है जो खुद शिकार करके खाना पसंद करता है।

4- बाघ के सूंघने सुनने और देखने की छमता काफी तेज होती है यह 1 किलोमीटर दूर से अपने शिकार का गंध सूंघ सकता है।

5- बाघ हिरण, सूअर, भैस, ज़ेबरा आदि जंगली जानवरों का शिकार कर भोजन करते है।

6- बाघ का गर्भकाल साढ़े तीन महीने का होता है और यह एक साथ 3 से 5 बच्चो को जन्म देती है।

7- बाघ के बच्चो को शावक कहा जाता है। मादा बाघ शावको का देखभाल कर बड़ा करते है।

8- बाघ के शारीर का रंग लाल और पिला रंगों का मिश्रण का होता है जिसमे काले रंग की लम्बी लम्बी धारियाँ होती है।

9- बाघ की लम्बाई 12 से 13 फीट ऊंचाई 70 से 120 सेंटीमीटर तक होती है।

10- एक बाघ का जीवन कल औसतन 19 वर्ष का होता है।

क्या आप जानते है: AM PM का फुल फॉर्म क्या है?

बाघ संरक्षण के बारे में जानकारी (Information about tiger project in hindi)

1970 के आसपास वन्य अधिकारियो के एक रिपोर्ट में पाया गया की 20वी शताब्दी के शुरुवात में भारत में बाघों की संख्या 55 हजार से भी अधिक थी पर 1973 आते आते देश में बाघों की कुल संख्या केवल 1827 ही रह गई थी। जो की एक बहुत बड़ा चिंता का विषय था। 

बाघों की आबादी में इतनी तेजी से गिरावट से यह समझा जा सकता था की बाघ एक संकटग्रस्त जातियों में सामिल हो गया था और यदि बाघों का संरक्षण नहीं किया जाए तो धीरे धीरे बाघ इस दुनिया से विलुप्त हो जाएगा और आने वाली पीढ़ी बाघों के बारे में सिर्फ किताबो में ही पढ़ पाएंगे वह कभी बाघ को देख नहीं पाएंगे।

वन्य जीव संरचना में बाघ एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है साथ ही बाघ भारत का राष्ट्रिय पशु भी है अत: बाघों को बचाने के लिए भारत सरकार ने बाघ संरक्षण अधिनियम के अंतर्गत तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने 6 अप्रैल 1973 को बाघ परियोजना (Project Tiger) का शुभारंभ किया। और इसके अंतर्गत देश का पहला बाघ अभयारण्य, जिम कॉर्बेट बाघ अभयारण्य को बनाया गया जो की नैनीताल उत्तराखंड राज्य में स्थित है। वर्तमान में भारत में कुल 53 वन्य जीव अभयारण्य मौजूद है।

बाघ परियोजना के कारन बाघों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रही है 2006 से 2018 के बीच देश में बाघों की संख्या में लगभग 6% की वृधि दर देखि गई है। 2021 के एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में बाघों की संख्या बढ़कर 2967 हो गई है जिसमे से 1492 बाघ केवल मध्य प्रदेश, कर्नाटक और उत्तराखंड राज्य में है। भारत में बाघों की सबसे ज्यादा आवादी जिम कॉर्बेट बाघ अभयारण्य में पाई जाती है। पूरी दुनिया में बाघों की जितनी संख्या है उसमे से 70% बाघों की आवादी भारत में पाई जाती है।

वन्य जीव संरचना में बाघ के महत्व को देखते हुए और बाघ संरक्षण के प्रति लोगो में जागरूकता फ़ैलाने के लिए हर साल 29 जुलाई को विश्व बाघ दिवस के रूप में मनाया जाता है।

यह भी पढ़े: योग पर निबंध हिंदी में

बाघ से जुड़े प्रश्न उत्तर (FAQ about tiger in hindi)

प्रश्न- बाघ का वेज्ञानिक नाम क्या है?
उत्तर- बाघ का वेज्ञानिक नाम Panthera Tigris (पैंथेरा टिगरिस) है।

प्रश्न- बाघ को संस्कृत क्या कहते है?
उत्तर- बाघ को संस्कृत व्याघ्र (vyaghra) कहते है।

प्रश्न- भारत का राष्ट्रिय पशु क्या है?
उत्तर- भारत का राष्ट्रिय पशु बाघ है।

प्रश्न- बाघ को भारत का राष्ट्रिय पशु कब घोषित किया गया?
उत्तर- बाघ को भारत का राष्ट्रिय पशु 18 नवंबर 1972 को घोषित किया गया।

प्रश्न- भारत के अलावा और किस देश का राष्ट्रिय पशु बाघ है?
उत्तर- भारत के अलावा बांग्लादेश और म्यांमार देश का राष्ट्रीय पशु बाघ है।

प्रश्न- प्रोजेक्ट टाइगर की शुरुवात कब किया गया?
उत्तर- प्रोजेक्ट टाइगर की शुरुवात 6 अप्रैल 1973 किया गया।

प्रश्न- विश्व बाघ दिवस कब मनाया जाता है?
उत्तर- विश्व बाघ दिवस 29 जुलाई को मनाया जाता है।

प्रश्न- भारत का पहला बाघ अभयारण्य कौन सा है?
उत्तर- भारत का पहला बाघ अभयारण्य, जिम कॉर्बेट बाघ अभयारण्य है।

प्रश्न- वर्तमान में भारत में कितने वन्य जीव अभयारण्य है?
उत्तर- वर्तमान में भारत में 53 वन्य जीव अभयारण्य है।

प्रश्न- भारत में बाघों की सबसे ज्यादा आबादी कहाँ पाई जाती है?
उत्तर- भारत में बाघों की सबसे ज्यादा आबादी जिम कॉर्बेट बाघ अभयारण्य में पाई जाती है।

प्रश्न- वर्तमान में भारत में बाघों की संख्या कितनी है?
उत्तर- वर्तमान में भारत में बाघों की संख्या 2967 से भी अधिक है।

प्रश्न- भारत में बाघों की कितनी प्रजातियाँ पाई जाती है?
उत्तर- भारत में बाघों की 8 प्रजातियाँ पाई जाती है रॉयल बंगाल, सुमात्रा, इंडो-चीन, कैस्पियन, आमूर या साइबेरियाई, दक्षिणी चीनी, जावा और बाली।

प्रश्न- बाघ का गर्भघान काल कितना होता है?
उत्तर- बाघ का गर्भघान काल लगभग साढ़े तीन माह का होता है।

प्रश्न- बाघ के बच्चो को क्या कहा जाता है?
उत्तर- बाघ के बच्चो को शावक कहा जाता है।

प्रश्न- एक बाघ की औसत आयु कितनी होती है?
उत्तर- एक बाघ की औसत आयु 19 वर्ष होती है।

यह भी पढ़े: 5जी नेटवर्क के बारे में पूरी जानकारी

उमीद करता हूँ की tiger information in hindi से जुड़े दिए गए जानकारी आपको अच्छा लगा। यदि आपको यह जानकारी अच्छा लगा है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे।

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment