Information About Owl in Hindi | उल्लू के बारे में जानकारी

Information about owl in hindi | उल्लू के बारे में जानकारी हिंदी में | owl information in hindi | उल्लू के बारे में रोचक तथ्य | 20 lines on owl in hindi | owls meaning in hindi | ullu hindi |

Information About Owl in Hindi: यदि आप एक पंछी लवर तो आपको उल्लू जरुर पसंद होगा। वैसे तो आज कल उल्लू बहुत कम दिखाई देते है पर जब भी कभी हमे उल्लू दिखाई देते है तो हमे काफी अच्छा लगता है उल्लू को देखना और उल्लू का दिखाई देना शुभ भी माना जाता है। इस आर्टिकल में हमलोग information about owl in hindi यानी उल्लू के बारे में कुछ रोचक तथ्यों के बारे में जानने वाले है जिसके बारे में शायद ही आपको पता पता होगा।

Owls Meaning in Hindi

Owl को हिंदी में उल्लू कहा जाता है यानी उल्लू को ही अंगेजी में “Owl” कहा जाता है। वही उल्लू को संस्कृत में “उलूक” कहा जाता है।

Information About Owl in Hindi (20 उल्लू के बारे में रचक तथ्य)

1- उल्लू चेहरा सपाट जिसमे दो बड़ी बड़ी और गोल आँखे होते है। उल्लू के दो पैर जिसमे चार चार उंगली, एक झुकी हुई चोंच और एक छोटी सी पूंछ होती है।

2- उल्लू एक ऐसा पंछी है जिसे दिन की अपेक्षा रात में ज्यादा अच्छी तरह से दिखाई देता है जिस कारण से उल्लू अपना भोजन करने के लिए शिकार भी रात को ही ज्यादातर करते है।

3- उल्लू छोटे जानवरों जैसे चूहा, छुछुंदर, गिलहरी, सांप, रात में उड़ने वाले कीड़ो आदि का शिकार करके खाते है।

4- उल्लू की सुनाने की छमता काफी तेज होती है जिससे वह अपने शिकार की किसी भी तरह ही हलचल को काफी दूर से सुन सकती है।

5- ज्यादातर उल्लू हल्का भूरे चितकबरा रंग के होते है जिस कारन से दिन में यह पेड़ो पे काफी आसानी से छिप जाते है।

6- उल्लू अपनी गर्दन को पूरी तरह मोड़ सकती है उल्लू अपनी गर्दन को 270 डिग्री तक मोड़ सकती है।

7- पछियों में उल्लू एक मात्र ऐसी पंछी है जो नीले रंग को देख सकती है।

8- उल्लू लगभग 60 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से उड़ सकती है। उल्लू जब उड़ती है तो इसके पंखों से कोई आवाज नहीं आता है यह बहुत ही शांत से उड़ता है। 

9- एक उल्लू की औसत आयु लगभग 30 वर्ष होती है।

10- भारत में उल्लू की लगभग 33 प्रजातियाँ पाई जाती है वही पुरे विश्व में उल्लू की लगभग 200 से भी अधिक प्रजातियाँ पाई जाती है।

11- उल्लू का वैज्ञानिक नाम स्त्रिगिफॉर्मेस (Strigiformes) होता है।

12- उल्लुओ के झुंड यानी समूह को पार्लियामेंट (parliament) कहा जाता है।

13- ज्यादातर उल्लू अंडा देने के लिए खुद का घोसला नहीं बनाते है वल्कि वह दुसरे पंछियों के घोसले में अंडा देते है।

14- एक मादा उल्लू एक समय में 3 से 6 अंडे देती है

15- मादा उल्लू, नर उल्लू से आकार में बड़े होते है।

16- उल्लू का बच्चा जन्म के 7 महीने के बाद उड़ने के लिए तैयार हो जाता है।

17- उल्लू शांत स्वभाव के पंछी होते है जो ज्यादातर झुंड में रहना पसंद नहीं करते है।

18- उल्लू के प्रजातियों में दुनिया का सबसे बड़ा उल्लू, ग्रेट ग्रे उल्लू (Great Grey Owl) होता है जिसकी लम्बाई लगभग 32 इंच तक होती है। जिसका वजन लगभग 1 किलो से भी अधिक होती है।

19- उल्लू के प्रजातियों में दुनिया का सबसे छोटी उल्लू, एल्फ उल्लू (Elf Owl) होता है जिसकी लम्बाई केवल 5 इंच तक होती है। और जिसका वजन लगभग 40 ग्राम तक होती है।

20- संयुक्त राज्य अमेरिका में उल्लू पलना गैर क़ानूनी है।

यह भी पढ़े: योग पर निबंध हिंदी में

हिंदू धर्म के अनुसार उल्लू की मान्यता

हिंदू धर्म में उल्लू माता लक्ष्मी का वाहन होता है और माता लक्ष्मी को धन और समृधि का प्रतिक माना जाता है जिस कारन से उल्लू को भी हिंदू धर्म में धन और समृधि का प्रतिक माना जाता है।

उल्लू शुभ होता है या अशुभ

भारत में अलग अलग जगह पे उल्लू के शुभ और अशुभ पे लोगो की अलग अलग मान्यताए है कुछ जगह पे उल्लू को शुभ माना जाता है क्योंकि माँ लक्ष्मी का वाहन होती है और माँ लक्ष्मी धन और समृधि का प्रतिक होता है जिस कारन से उल्लू को भी धन और समृधि का प्रतिक माना जाता है। वही कुछ जगह पे उल्लू को अशुभ माना जाता है क्योंकि उल्लू एक ऐसा पंछी है जिसे दिन के मुकाबले रात को ज्यादा अच्छे से दिखाई देते है और जो पंछी रात को देख सकते है उन्हें रात का पंछी कहा जाता है जिस कारन से उल्लू को अशुभ माना जाता है।

कई जगह पे यदि आप कही बहार जा रहे है और रस्ते में आपको उल्लू दिख जाए तो यह बहुत ही शुभ माना जाता है और यह धन प्राप्ति का संकेत माना जाता है।

वही कई जगह पे घर में उल्लू का तस्वीर या कोई प्रतिक रखना शुभ माना जाता है और इससे घर पे बुरी नजर का संकट नहीं रहता है रिश्ते मजबूत होते है और घर में खुशहाली आती है।

क्या आप जानते है: AM PM का फुल फॉर्म क्या होता है

मेरे बचपन में उल्लू की कहानी

वैसे तो मैं अभी अपनी MBA की पढाई कर रहा हूँ पर यह बात तक की है जब में कक्षा पांच में था। मेरा घर गाँव में है और अक्सर गाँव में लोग घर बनाते समय वेंटिलेटर होल सिर्फ रूम के तरफ से ही बंद करते है और बहार तरफ खुला छोड़ देते है ताकि उसमे कोई पंछी रह सके।

मेरा पड़ोस में एक घर था जो की अभी भी है उनके घर के वेंटिलेटर होल में काफी सारे कबूतर रहते थे पर एक बार उस वेंटिलेटर होल में एक जोड़ा उल्लू रहने लगा और उस उल्लू के जोड़े पे अपना बच्चा भी दिया था।

उसी घर के बगल में एक मदिर है जब भी लोग तालाब से स्नान कर के पार होते है तो रुक कर उस मंदिर को प्रणाम करते है क्योंकि मंदिर के बगल में ही उल्लू का जोड़ा रहता था और उल्लू माँ लक्ष्मी का वाहन है जिस कारन से उल्लू भी पूज्यनीय है इसलिए अक्सर मंदिर को प्रणाम करने वाले लोग उस उल्लू के जोड़े को भी प्रणाम करते थे और लोगो के देखा देखि में हम बच्चे भी मंदिर को प्रणाम करने के साथ साथ उस उल्लू के जोड़े को भी प्रणाम किया करते थे।

जब हम बच्चे उस उल्लू को प्रणाम करते थे तब उल्लू अपनी गर्दन को ऊपर नीचे हिलाते थे अब वह उल्लू ऐसा क्यों करते थे वह तो पता नहीं पर हम बच्चो को लगता था की हम प्रणाम कर रहे है तो उल्लू हमे आशीर्वाद दे रहे है और यह देख कर हम सब बच्चे काफी खुश हो जाया करते थे।

उस समय गाँव में वह उल्लू का जोड़ा आकर्षण का केंद्र हुआ करता था जो भी उस रस्ते से पार होते थे रुक के उल्लू को एक बार जरुर देखा करते थे। फिर जब वह उल्लू का बच्चा सब बड़ा हो गया तो वह उल्लू सब उड़ के कही और चले गए।   

यह भी जाने: स्टैच्यू ऑफ इक्‍वालिटी

किसी को उल्लू कहने का क्या मतलब होता है?

अक्सर हम लोगो को कहते हुए सुनते है की उल्लू है क्या? और आपके मन में भी यह सवाल आता होता की ऐसा भला क्यों कहा जाता है और इसका मतलब क्या होता है। बहुत से लोगो को ऐसा लगता है की उल्लू कहने का मतलब बेवकूफ कहना होता है पर आपको बता दे की ऐसा बिलकुल भी नहीं है उल्लू को काफी तेज और बुद्धिमान मना जाता है और जब उल्लू को तेज और बुद्धिमान मना जाता है तो किसी को उल्लू कहना बेवकूफ कहना कैसे हो सकता है।

अब बात करे की किसी को उल्लू कहने का अस्ली मतलब की तो जैसे की हमने जाना की उल्लू को दिन की अपेक्षा रात को ज्यादा अस्पष्ट दिखाई देते है जिस कारन से उल्लू दिन में सोते है और रात को जागते है और अपना भोजन के लिए शिकार करते है। उल्लू के रात के जागने के आदत के कारन ही अक्सर जो लोग रात को ज्यादातर देर तक जागते है उनके लिए उल्लू शब्द का प्रयोग किया जाता है। अक्सर आपने लोगो को यह कहते भी सुना होगा की उल्लू की तरह रात को क्यों जाग रहे हो जाके सो जाओ, इतनी रात तक जाग रहे हो उल्लू हो क्या आदि। 

उल्लू से संबंधित प्रश्न (Ullu se judi FAQ)

प्रश्न- उल्लू का वेज्ञानिक नाम क्या है?
उत्तर- उल्लू का वेज्ञानिक नाम स्त्रिगिफॉर्मेस (Strigiformes) है।

प्रश्न- उल्लू का संस्कृत नाम क्या है?
उत्तर- उल्लू का संस्कृत नाम उलूक है।

प्रश्न- भारत में उल्लू की कितनी प्रजाति पाई जाती है?
उत्तर- भारत में उल्लू की 33 प्रजाति पाई जाती है।

प्रश्न- उल्लू क्या खाती है?
उत्तर- उल्लू छोटे जानवरों जैसे चूहा, छुछुंदर, गिलहरी, सांप, रात में उड़ने वाले कीड़ो आदि खाती है।

प्रश्न- रात में उल्लू को कौन सा रंग दिखाई देता है?
उत्तर- रात में उल्लू को नीला रंग दिखाई देता है।

प्रश्न- उल्लू के सबसे बड़ी प्रजाति का नाम क्या है?
उत्तर- उल्लू के सबसे बड़ी प्रजाति का नाम ग्रेट ग्रे उल्लू (Great Grey Owl) है।

प्रश्न- उल्लू के सबसे छोटी प्रजाति का नाम क्या है?
उत्तर- उल्लू के सबसे छोटी प्रजाति का नाम एल्फ उल्लू (Elf Owl) है।

प्रश्न- उल्लू कितना तेजी से उड़ सकता है?
उत्तर- उल्लू लगभग 60 किलोमीटर प्रति घंटा की तेजी से उड़ सकता है।

प्रश्न- उल्लू किस हिंदू देवी की वाहन है?
उत्तर- उल्लू हिंदू देवी माँ लक्ष्मी की वाहन है।

प्रश्न- उल्लू अपनी गर्दन को कितना डिग्री घुमा सकती है?
उत्तर- उल्लू अपनी गर्दन को लगभग 270 डिग्री तक घुमा सकती है।

Leave a Comment