Information About cow in Hindi | गाय के बारे में रोचक तथ्य

Information about cow in hindi | गाय के बारे में रोचक तथ्य | cows information in hindi | gay per nibandh | गाय पर निबंध | gay ka nibandh | information of cow in hindi

Information About cow in Hindi: गाय एक बहुत ही प्यारी, दयालु और शांत स्वभाव का जानवर होता है। भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग हर घर में आपको गाय जरुर देखने मिलेंगे वही भारत के शहरी क्षेत्रों में भी लोग बड़े प्यार से गाय को पाला करते है। प्राचीन काल से ही गाय का बहुत ही महत्व है, भारत में गाय को ग्रामीण अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी कहा जाता है। भारत में प्राचीन काल से ही गाय को एक देवी के रूप में माना जाता है। हिन्दू धर्म में ऐसी मान्यता है कि गाय में 33 करोड़ प्रकार के देवी देवता वास करते हैं और यही कारण है कि हिन्दू धर्म में गाय को गौ माता मानकर इनकी पूजा की जाती है।

गाय से जुड़ी ऐसी अनेको रहस्मय और रोचक जानकारी है जिसके बारे में शायद ही आपको पता होगा। तो चलिए एक “information about cow in hindi” के इस आर्टिकल में आज हमलोग गाय से जुड़े यही सारे रोचक तथ्यों के बारे में जानते है।

Cows Information in Hindi

हिंदी नामगाय
गाय का अंग्रेजी नामCow (काऊ)
गाय का संस्कृत नामगौ:, धेनुः
गाय का वैज्ञानिक नामBoss Indicus (बॉस इंडिकस)

Information About cow in Hindi (गाय के बारे में रोचक तथ्य)

  • गाय एक बहुत ही प्यारी, दयालु और शांत स्वभाव का जानवर है। गाय एक पालतू जानवर है। भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग हर कोई गाय पालते है वही भारत के शहरी क्षेत्रों में भी लोग बड़े प्यार से गाय को पाला करते है।
  • प्राचीन काल से ही गाय का बहुत महत्व है, हिन्दू धर्म में प्राचीन काल से ही गाय को देवी का रूप माना जाता है ऐसा माना जाता है कि गाय में 33 करोड़ प्रकार के देवी देवता वास करते हैं और यही कारण है कि हिन्दू धर्म में गाय को गौ माता का दर्जा दिया गया है और इनकी पूजा किया जाता है।
  • गाय एक बहुत ही उपयोगी पालतू जानवर है। गाय दूध देती है और गाय के दूध से कई प्रकार के मिठाई, दही, पनीर, घी, कुल्फी, आइसक्रीम आदि बनाए जाते है।
  • गाय का दूध बहुत ही पोस्तिक होता है। गाय के दूध में दो सौ प्रतिशत कैल्शियम पाया जाता है, 150 प्रतिशत फास्फोरस पाया जाता है, 50% पोटेशियम पाया जाता है, 20% लोग तत्व पाया जाता है और 10% सोडियम भी पाया जाता है।
  • बाजार में गाय की दूध का काफी डिमांड होता है लोग गाय पालन करके इसका दूध बेच कर अपना आमदनी भी करते है जिस कारन से गाय को ग्रामीण भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी भी कहा जाता है।
  • भारत में गाय के 30 से भी अधिक प्रकार की नस्लें पाई जाती हैं। जिसमे से कुछ प्रमुख नस्ल है साहिवाल गाय, गियर, राठी गोवंस, गिर गाय, लाल सिंधी, लाल कंधारी, मुर्रा, जेर्सी कैटल, अमृत महल, गंगातीरी, ओंगोल मवेशी आदि।
  • गाय की अलग अलग नस्ल अलग अलग मात्रा में दूध देती है। भारत में सबसे अधिक मात्रा में दूध देने वाली गाय की नस्ल गिर गाय है जो सामान्यत: एक दिन में 50 से 80 लीटर तक दूध देती है। गिर गाय भारत में सबसे अधिक गुजरात राज्य में पाया जाता है। भारत के अलावा ब्राजील में भी गिर गाय नस्ल की गाय पाया जाता है।
  • गाय का ह्रदय दुसरे जानवरों के मुकाबले काफी तेज धड़कता है। गाय का ह्रदय 1 मिनट में लगभग 870 बार तक धड़कता है तथा गाय 1 घंटे में 40 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ सकती है।
  • गाय एक शुद्ध शाकाहारी जानवर है यह केवल घास फूस खाकर जीवित रहती है। गाय जब घास खाती है तो वह घास को चबाने के बदले सीधे उसे निगल जाती है फिर पेट के एक हिस्से में जमा रखती है और फिर रात को जब यह आराम करती तो वह घास को पेट से मुंह में निकालकर उसे अच्छा से चबाती है जिसे जुगाली कहा जाता है।
  • गाय की सुनने और सूंघने की क्षमता काफी तेज है। गाय 6 मील दूर की महक को सूंघ कर महसूस कर सकती है। साथ ही गाय को आने वाली दुर्घटनाओ के बारे में भी पहले से ही अनुभूति हो जाती है।
  • गाय का गर्भकाल लगभग 9 महीने का होता है गाय एक बार में एक बछड़ा को जन्म देती है। गाय का बछड़ा जन्म के कुछ मिनटों बाद ही अपने पैरो पर खड़ा हो जाता है।
  • जन्म के 3 से 4 साल में ही गाय का बच्चा पूरा तरह वयस्क हो जाता है। गाय के नर बच्चा यानी बैल का इस्तेमाल खेतो में हल जोतने में किया जाता है जबकि गाय के मादा बच्चा यानी गाय को दूध के लिए पाला जाता है। सामान्यत: गाय की जीवनकाल 20 से 22 वर्ष की होती है।
  • वैज्ञानिक का मानना है कि पेड़ पौधे के अलावा गाय ही एक मात्र ऐसा प्राणी है जो हमे ऑक्सीजन देती है यानी सांस लेने के क्रम में गाय ऑक्सीजन लेने के साथ साथ ऑक्सीजन छोड़ती भी है। जबकि बाकी सभी एनी जीव ऑक्सीजन लेकर कार्बन डाइ ऑक्साइड छोड़ते हैं।
  • गाय के दूध से घी बनाया जाता है गाय के घी का इस्तेमाल यज्ञ के हवन में किया जाता है हवन के दौरान 10 ग्राम घी को अगर आग में डाली जाती है तो इससे 1 टन जितनी ऑक्सीजन बनती है।
  • गाय का गोबर को भी काफी शुभ माना जाता है। गाय के गोबर से उपले बनाया जाता है जिसे इंधन के रूप में जलाने के काम आता है। गाय के गोबर का प्रयोग किसानों द्वारा खेतो में खाद के रूप में किया जाता है। गाय के गोबर से बने खाद्य मिट्टी को भी नुकसान नहीं पहुंचाते और पैदावार भी बहुत अच्छी होती है।
  • गाय का मूत्र भी बहुत ही लाभदायक और उपयोगी होता है इससे कई प्रकार की दवाइयां बनाई जाती है। गोमूत्र में नाइट्रोजन, सल्फर, अमोनिया, कॉपर, फेरस, यूरिक एसिड, यूरिया, फास्फेट सोडियम, पोटेशियम, मैगनीज , कार्बोलिक एसिड, कैल्शियम, विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन डी, विटामिन ई, सल्फ्यूरिक अम्ल, हाइड्रोक्साइड आदि पाए जाते हैं। गोमूत्र से अनेक प्रकार की बीमारियां दूर होती है।
  • गाय पालन काफी शुभ माना जाता है घर में गाय का वास यानी माँ लक्ष्मी का वास माना जाता है। गाय को छूने मात्र से ही लोगो के मन की उलझाने शांत होने लगती है।
  • हिन्दू धर्म में हर हर साल गोवर्धन पूजा में गाय बैल आदि को काफी अच्छे तरीके से सजाया जाता है और फिर इनकी पूजा की जाती है।
यह भी पढ़े: शेर के बारे में रोचक तथ्य

गाय पर निबंध (Gay per Nibandh)

गाय एक बहुत ही पवित्र, प्यारी, दयालु, शांत स्वभाव का एक पालतू जानवर है। अगर गाय का बनावट का बात करें तो गाय के चार पैर, दो आंखें, दो सिंह, एक नाक, एक मुह, एक पेट, चार थन और एक लंबी सी पूछ होती है। गाय काली, भूरी, सफेद, लाल, चितकबरी आदि रंगों के होते है। गाय का ह्रदय दुसरे जानवरों के मुकाबले काफी तेज धड़कता है। गाय का ह्रदय 1 मिनट में लगभग 870 बार तक धड़कता है तथा गाय 1 घंटे में 40 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ सकती है। प्राचीन काल से ही गाय का बहुत ही महत्व है, प्राचीन काल से ही हिन्दू धर्म में गाय को देवी का रूप माना जाता है ऐसा माना जाता है कि गाय में 33 करोड़ देवी देवता वास करते हैं और यही कारण है कि हिन्दू धर्म में गाय को गौ माता का दर्जा दिया गया है और इनकी पूजा भी किया जाता है। हिन्दू धर्म में हर हर साल गोवर्धन पूजा में गाय बैल आदि को काफी अच्छे तरीके से फूलो और रंगों से सजाया जाता है और फिर रात को उनकी पूजा की जाती है। गाय एक बहुत ही लाभदायक पालतू जानवर है। गाय हमे दूध देती है और गाय के दूध से कई प्रकार के मिठाई, दही, पनीर, घी, आइसक्रीम कुल्फी, आदि बनाए जाते है। गाय का दूध बहुत ही पोस्तिक होता है। गाय के दूध में कई प्रकार के विटामिन और मिनिरल पाया जाता है। गाय के दूध में दो सौ प्रतिशत कैल्शियम पाया जाता है, 150 प्रतिशत फास्फोरस पाया जाता है, 50% पोटेशियम पाया जाता है, 20% लोग तत्व पाया जाता है और 10% सोडियम भी पाया जाता है। भारत में गाय के 30 से भी अधिक प्रकार की नस्लें पाई जाती हैं। जिसमे से कुछ प्रमुख नस्ल है साहिवाल गाय, गियर, राठी गोवंस, गिर गाय, अमृत महल, लाल सिंधी, लाल कंधारी, मुर्रा, जेर्सी कैटल, गंगातीरी, ओंगोल मवेशी आदि। गाय की अलग अलग नस्ल अलग अलग मात्रा में दूध देती है। भारत में सबसे अधिक मात्रा में दूध देने वाली गाय की नस्ल गिर गाय है जो सामान्यत: एक दिन में 50 से 80 लीटर तक दूध देती है। गिर गाय भारत में सबसे अधिक गुजरात राज्य में पाया जाता है। भारत के अलावा ब्राजील में भी गिर गाय नस्ल की गाय पाया जाता है। गाय का गर्भकाल लगभग 9 महीने में होने  है गाय एक बार में एक बछड़ा को जन्म देती है। गाय का बछड़ा जन्म के कुछ मिनटों बाद ही अपने पैरो पर चलना हो जाता है। गाय की अलग अलग नस्ल अलग अलग मात्रा में दूध देती है। भारत में सबसे अधिक मात्रा में दूध देने वाली गाय की नस्ल ही गिर गाय, जो सामान्यत: एक दिन में 50 से 80 लीटर तक दूध देती है। गिर गाय भारत में सबसे अधिक गुजरात राज्य में पाया जाता है। भारत के अलावा ब्राजील में भी गिर गाय नस्ल की गाय पाया जाता है। गाय का गोबर बहुत ही शुभ माना जाता है। गाय के गोबर से उपले बनाए जाते है जिसे इंधन के रूप में जलाने के काम आता है। किसानों द्वारा खेतो में गाय के गोबर का प्रयोग खाद के रूप में कर सकते है। गाय के गोबर से बने खाद्य मिट्टी को भी नुकसान नहीं पहुंचाते और पैदावार भी बहुत अच्छी होती है। गाय का मूत्र यानि गोमूत्र भी बहुत ही लाभदायक और उपयोगी होता है इससे कई प्रकार की दवाइयां बनाई जाती है। गोमूत्र में नाइट्रोजन, सल्फर, अमोनिया, कॉपर, फेरस, यूरिक एसिड, यूरिया, फास्फेट सोडियम, पोटेशियम, मैगनीज , कार्बोलिक एसिड, कैल्शियम, विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन डी, विटामिन ई, सल्फ्यूरिक अम्ल, हाइड्रोक्साइड आदि पाए जाते हैं। गोमूत्र से अनेक प्रकार की बीमारियां दूर होती है। वैज्ञानिक का मानना है कि पेड़ पौधे के अलावा गाय ही एक मात्र ऐसा प्राणी है जो हमे ऑक्सीजन देती है यानी सांस लेने के क्रम में गाय ऑक्सीजन लेने के साथ साथ ऑक्सीजन छोड़ती भी है। जबकि बाकी सभी एनी जीव ऑक्सीजन लेकर कार्बन डाइ ऑक्साइड छोड़ते हैं।

यह भी पढ़े: ऊंट के बारे में जानकारी

गाय पर 10 वाक्य (10 Lines on Cow in Hindi)

  1. गाय एक बहुत ही शांत, दयालु और प्यारी पालतू जानवर है। 
  2. गाय एक शुद्ध शाकाहारी जानवर है यह केवल घास फूस खाकर जीवित रहती है।
  3. हिन्दू धर्म में गाय में माँ लक्ष्मी का वास माना जाता है।
  4. गाय हमे दूध देती है गाय के दूध से कई प्रकार के मिठाई, दही, पनीर, धी आदि बनाए जाते है।
  5. गाय का गर्भकाल लगभग 9 महिने का होता है। 
  6. गाय का ह्रदय 1 मिनट में लगभग 870 बार तक धड़कता है। 
  7. गाय 1 घंटे में 40 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ सकती है।
  8. गाय एक मात्र ऐसा प्राणी है जो सांस लेते समय ऑक्सीजन लेकर ऑक्सीजन ही छोड़ती है।
  9. सामान्यत: गाय की जीवनकाल 20 से 22 वर्ष की होती है।
  10. गाय को ग्रामीण भारत की अर्थ्वाव्स्था की रीड की हड्डी कहा जाता है।
यह भी पढ़े: Names of Trees in English and Hindi

FAQ about cow in hindi (गाय से जुड़े प्रश्न उत्तर)

गाय का वैज्ञानिक नाम क्या है?

गाय का वैज्ञानिक नाम Boss Indicus (बॉस इंडिकस) है।

गाय को संस्कृत में क्या कहते है?

गाय को संस्कृत में गौ:, धेनुः कहते है।

तो यह रहा information about cow in hindi यानि गाय के बारे में रोचक तथ्य जिसमे हमलोग गाय के बारे बारे में काफी सारे रोचक तथ्यों के बारे में जाने। आशा करता हूँ की आपको cows information in hindi का यह जानकारी काफी अच्छा लगा होगा यदि आपको यह लेख अच्छा लगा है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर से जरुर शेयर करे।

Information About Cow in Hindi के इस आर्टिकल को अपना प्यार देने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment