7 Colors of Rainbow in Hindi | इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम

7 colors of rainbow in hindi | इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम | colours of rainbow in hindi | इंद्रधनुष के रंगों के नाम | rainbow colors in hindi | rainbow colours in hindi | rainbow colours name in hindi | rainbow colors name in hindi | rainbow mein kitne colour hote hain | about rainbow in hindi

अक्सर बरसात के मौसम में वर्षा होने के बाद हमे आसमान में इंद्रधनुष दिखाई देते है। रंग विरंगे इंद्रधनुष को देखना हर किसी को बहुत अच्छा लगता है यह सुंदर और मनमोहक होता है। इंद्रधनुष कुल साल रंगोंं से मिलकर बना होता है क्या आपको पता है की इंद्रधनुष का वह सात रंग कौन कौन रंग है तथा उन रंगोंं का क्या महत्व है? यदि नहीं पता है तो इस आर्टिकल में आपको यह सारी जानकारी मिलने वाली है। 

“7 colous of rainbow in hindi” के इस आर्टिकल में आज हमलोग “इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम” जानने वाले है साथ ही इस आर्टिकल में हमलोग यह भी जानेंगे की आखिर इंद्रधनुष क्यूँ दिखाई देता है और इसके पीछे का साइंस क्या है? 

7 Colors of Rainbow in Hindi, इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम

7 Colors of Rainbow in Hindi and English (इंद्रधनुष के रंगों के नाम)

SL NoRainbow colors name in hindiRainbow colors name in englishColor Picture
1लाल RedRed
2नारंगीOrange Orange
3पीलाYellowYellow
4हरा Green Green
5नीला Blue Blue
6जामुनीIndigoIndigo
7बैंगनीVioletViolet

इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम (7 Colours of Rainbow in Hindi and English)

क्रमइंद्रधनुष के रंगों के नाम हिंदी मेंइंद्रधनुष के रंगों के नाम इंग्लिश मेंरंगोंं का तरंगदैर्ध्य
पहलालाल Red625 – 740 nm
दूसरानारंगीOrange 585 – 620 nm
तीसरापीलाYellow570 – 590 nm
चौथाहरा Green 500 – 565 nm
पांचवानीला Blue 440 – 490 nm
छठाजामुनीIndigo380 – 420 nm
सातवाबैंगनीViolet355 – 390 nm

इंद्रधनुष के रंगों के नाम और उनके बारे में जानकारी

लाल रंग- Red Color

यह भी पढ़े: 50 Colours Name in Hindi and English With Picture

इंद्रधनुष में ऊपर से पहला रंग लाल होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में पहला रंग लाल रंग (Red Color) होता है। आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा की इंद्रधनुष में 7 रंगोंं में से लाल रंग ही सबसे ऊपर क्यूँ होता है तो आपको बता की विज्ञान के अनुसार जिस रंग का तरंगदैर्ध्य अधिक होता है उन रंग का विक्षेपण सबसे कम होता है। इंद्रधनुष के सात रंगों में से लाल रंग का तरंगदैर्ध्य सबसे अधिक होता है जिस कारण से लाल का विक्षेपण सबसे कम होता है और यही कारण है की लाल रंग इंद्रधनुष में सबसे ऊपर होता है। लाल रंग का तरंगदैर्ध्य लगभग 625 – 740 nm (Nanometers) के बीच होता है। लाल रंग को रक्त वर्ण यानि रक्त वाला रंग भी कहा जाता है क्यूंकि रक्त का रंग भी लाल होता है। लाल रंग को उत्साह, सौभाग्य, उमंग, साहस, प्रेम, क्रोध आदि का प्रतीक माना जाता है। लाल रंग को हिन्दू धर्म में सुहाग का रंग माना गया है। जिस कारण से हिन्दू धर्म में विवाहित महिलाएं लाल रंग की साड़ी पहनते है और मांग में लाल रंग की सिंदूर लगाते हैं।

नारंगी रंग – Orange Color

इंद्रधनुष में ऊपर से दुरसा रंग नारंगी होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में पहला रंग लाल रंग के बाद दूसरा रंग नारंगी रंग होता है। इंद्रधनुष के रात रंगोंं में से नारंगी रंग का तरंगदैर्ध्य लाल रंग के बाद सबसे अधिक होता है जिस कारण से नारंगी रंग का विक्षेपण लाल रंग के बाद सबसे कम होता है और यही कारण है की इंद्रधनुष में ऊपर से लाल रंग के बाद दूसरा रंग नारंगी रंग होता है। नारंगी रंग का का तरंगदैर्ध्य लगभग 585 – 620 nm (Nanometers) के बीच होता है। नारंगी रंग को ऊर्जा, प्रेरणा, गौरव और वीरता का प्रतिक माना जाता है।

यह भी पढ़े: All Sanskrit Colours Name (सभी रंगों के नाम संस्कृत में)

पीला रंग – Yellow Color

इंद्रधनुष में ऊपर से तीसरा रंग पीला होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में पहला रंग लाल रंग और दूसरा रंग नारंगी रंग के बाद तीसरा रंग पीला रंग होता है। पीला रंग का तरंगदैर्ध्य 570 – 590 nm (Nanometers) के बीच होता है जो की इंद्रधनुष के सात रंगोंं में से लाल रंग और नारंगी रंग के बाद पीला रंग का तरंगदैर्ध्य सबसे अधिक होता है जिस कारण से पिला रंग का विक्षेपण लाल रंग और नारंगी रंग के बाद सबसे कम होता है और यही कारण है की इंद्रधनुष में लाल रंग और नारंगी रंग के बाद पीला रंग होता है। पीला रंग को सुख, शांति, योग्यता, अध्ययन, विद्वता, एकाग्रता और मानसिक बौद्धिक उन्नति का प्रतीक माना जाता है।

हरा रंग – Green Color

इंद्रधनुष में ऊपर से चौथा रंग हरा होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में चौथा रंग हरा रंग होता है। हरा रंग का तरंगदैर्ध्य 500 – 565 nm (Nanometers) के बीच होता है। हरा रंग को प्रकृति का रंग कहा जाता है और इसके पीछे का कारण यह की प्रकृति में पेड़ पोधो के पत्ते का रंग हरा होता है जिस कारण से प्रकृति में हमे चारो ओर हरयाली ही हरयाली दिखाई देती है और इसी लिए हरा रंग को प्रकृति का रंग कहा जाता है। हरा रंग को विकास, स्वास्थ्य और सौभाग्य का प्रतिक माना जाता है।

नीला रंग – Blue Color

इंद्रधनुष में ऊपर से पांचवा रंग नीला होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में पांचवा रंग नीला रंग होता है। नीला रंग का तरंगदैर्ध्य 440 – 490 nm (Nanometers) के बीच होता है। नीला रंग बल, पौरुष और वीर भाव का प्रतीक माना जाता है। प्रकृति में नीला रंग का महत्व काफी ज्यादा है। जब आसमान साफ़ होते है यानी आसमान बदलो से ढका नहीं होता है तो आसमान हमे नीला यानी आसमानी रंग का दिखाई देता है। वही पृथ्वी को भी नीला ग्रह कहा जाता है और इसके पीछे का कारण यह है की पृथ्वी का लगभग 71% हिस्सा में पानी है जिस कारण से अंतरिक्ष यात्री को अंतरिक्ष से पृथ्वी नीला रंग का दिखाई देता है और इसी कारण पृथ्वी को नीला ग्रह भी कहा जाता है।

जामुनी रंग – Indigo Color

इंद्रधनुष में ऊपर से छठा रंग जामुनी होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में छठा रंग जामुनी रंग होता है। जामुनी रंग का तरंगदैर्ध्य 380 – 420 nm (Nanometers) के बीच होता है। जामुनी रंग को ज्ञान, विद्या, सुख-समृद्धि,  शांति, एकाग्रता, योग्यता आदि का प्रतिक माना जाता है।

बैंगनी रंग – Violet Color

इंद्रधनुष में ऊपर से सातवा रंग बैंगनी होता है यानि इंद्रधनुष में ऊपर से नीचे के क्रम में सातवा अंतिम रंग वही निचे सेपहला रंग बैंगनी रंग होता है। बैंगनी रंग का तरंगदैर्ध्य 355 – 390 nm (Nanometers) के बीच होता है। बैंगनी रंग का तरंगदैर्ध्य इंद्रधनुष के सातो रंगोंं में सबसे कम है जिस कारण से बैंगनी रंग का विक्षेपण सबसे अधिक होता है और बैंगनी रंग इंद्रधनुष का अंतिम रंग होता है यानी सभी रंगोंं में सबसे नीचे होता है। बैंगनी रंग उत्साहवर्धन और आपसी प्रेम का प्रतीक माना जाता है।

इंद्रधनुष कैसे बनता है?

जैसा की हम जानते है की जब किसी श्वेत प्रकाश को किसी कांच से गुजरा जाता है तो वह श्वेत प्रकाश कुल सात रंगों में विभाजित हो जाता है और इस प्रक्रिया को प्रकाश का विक्षेपण कहा जाता है। आसमान में इंद्रधनुष भी प्रकाश के विक्षेपण की प्रक्रिया के कारण ही बनते है। वर्षा के बाद वातावरण में पानी की सूक्ष्म बुँदे मौजूद होते है और पानी की इनकी सूक्ष्म बूंदों से होकर जब सूर्य की प्रकाश गुजरती है तो सूर्य का श्वेत प्रकाश कुल साल रंगों लाल, नारंगी, पीला, हरा, नीला, जामुनी तथा बैंगनी में विभाजित हो जाती है और इंद्रधनुष बनाती है।

Rainbow Colors in Hindi and English

FAQ on 7 Colours of Rainbow in Hindi

इंद्रधनुष में कितने रंग होते है?

इंद्रधनुष में कुल सात रंग होते है।

इंद्रधनुष में कौन कौन से रंग होते है?

लाल – Red
नारंगी – Orange
पीला – Yellow
हरा – Green
नीला – Blue
जामुनी – Indigo
बैंगनी – Violet

Conclusion on 7 Colors of Rainbow in Hindi

7 colors of rainbow in hindi के इस आर्टिकल में आज हमने इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम के बारे में जाना साथी ही सभी रंगों के बारे में विस्तार में जानकारी प्राप्त किए। आशा है की 7 colours of rainbow in hindi का यह आर्टिकल आपको काफी अच्छा लगा होगा। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा यह आप हमे कमेंट में जरुर बताए साथ ही इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे।

7 colors of rainbow in hindi (इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम) के इस आर्टिकल को अपना प्यार देने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

1 thought on “7 Colors of Rainbow in Hindi | इंद्रधनुष के सात रंगों के नाम”

Leave a Comment