इंटरनेट बैंकिंग के फायदे और नुकसान

दोस्तों जैसे जैसे दुनिया में technology का आविस्कर हो रहा वैसे वैसे दुनिया digital होती जा रही है और इस digital world में हम अपना लगभग हर काम ऑनलाइन कर सकते है जाहे फिर वह ऑनलाइन शौपिंग करना हो, ऑनलाइन खाना मांगना हो, ऑनलाइन पढाई करना हो या कही यात्रा के लिए ऑनलाइन बस, ट्रेन, हवाई जहाज आदि काम ही क्यों ना हो आज हम अपना अनेको काम ऑनलाइन कर सकते है अब जब हम अपना सारा काम ऑनलाइन कर सकते है तो भला बैंक पीछे कैसे रहता तो आज हम अपने बैंक के भी ज्यादातर काम ऑनलाइन बैंकिंग यानी इंटरनेट बैंकिंग की मदद से बिना बैंक जाए घर से ही अपने मोबाइल या लैपटॉप की मदद से कर सकते है। 

आप में से ज्यादातर लोग इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते भी होंगे और जो नहीं करते है वह भी करना चाहते होंगे पर क्या आपको पता है की इंटरनेट बैंकिंग के फायदे क्या है और इंटरनेट बैंकिंग के नुकसान क्या है।

जहा तक बात है ऑनलाइन शौपिंग, ऑनलाइन टिकट बुक करना, ऑनलाइन खाना आर्डर करना, ऑनलाइन पढाई जैसे ऑनलाइन कामो को करने से इससे हम ज्यादातर फायदे ही है और नुकसान काम ही है पर जब बात आती है ऑनलाइन पैसे का लेन देन यानी इंटरनेट बैंकिंग तो ये काफी महत्वपूर्ण है की ऑनलाइन बैंकिंग यानी इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल हम काफी सावधानी से करे क्यूंकि बैंक में हमारी पूरी जमा पूंजी होती है और भगवान ना करे पर अगर गलती से भी अनजाने में भी अगर इसके साथ कुछ छेड़खानी हो जाए तो हम अपना सब कुछ खो सकते है।

आज कल बढती टेक्नोलॉजी के साथ साथ इसमें अपराध की संख्या भी बढती जा रही है आज कल हमे साइबर क्राइम की घटना काफी सुनाई देती है इसलिए इंटरनेट बैंकिंग के फायदे और इंटरनेट बैंकिंग के नुकसान के बारे में पूरी जानकारी हमे पता होना चाहिए ताकि ऐसी घटना से हम बच सके।

तो चलिए इंटरनेट बैंकिंग के फायदे और नुकसान क्या है? इसके बारे में हमलोग पूरी details में जानते है ताकि आप इंटरनेट बैंकिंग का ज्यादा से ज्यादा फायदा उठा सके और इसके नुकसान से बच सके।

Internet banking ke fayde aur nuksan के बारे में जानने से पहले चलिए हमलोग जान लेते है की Internet banking kya hota hai?

इंटरनेट बैंकिंग क्या होता है?

इंटरनेट बैंकिंग क्या है? की बात करे तो इंटरनेट बैंकिंग एक इलेक्ट्रॉनिक भुगतान प्रणाली है जिसके द्वारा कोई बैंक या वित्तीय संस्थान अपने website या app के द्वारा अपने ग्राहकों को बैंक से जुड़ी सेवाओ का उपयोग करने की अनुमति देती है।

यानी आसान भाषा में इंटरनेट बैंकिंग क्या है? की बात करे तो इंटरनेट की मदद से हम जो बैंक से जुड़ी सेवाओ का उपयोग करते है उसे इंटरनेट बैंकिंग कहते है इंटरनेट बैंकिंग को हम ऑनलाइन बैंकिंग या नेट बैंकिंग भी कहते है। 

तो चलिए अब हमलोग जानते है की Internet banking ke fayde kya hai? यानी internet banking benefits in hindi

इंटरनेट बैंकिंग के फायदे क्या है?

वैसे तो इन्टरनेट बैंकिंग के फायदे बहुत सारे है जिसमे से अगर कुछ मुख्य फायदे की बात करे तो वह कुछ ये है की 

  • इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा आप बैंक के बहुत सारे सर्विस का इस्तेमाल बिना बैंक जाए अपने घर से ही इंटरनेट की मदद से कर सकते है।
  • इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा आप वित्तीय और गैर वित्तीय लेन देन यानी transections कर सकते है।
  • घर बैठे अपने बिलो का भुगतान कर सकते है। 
  • अपने बैंक balance यानी बैंक में जमा राशी को कभी भी check कर सकते है। 
  • बैंक statement को कभी भी check कर सकते है और statement को download भी कर सकते है।
  • नया ATM Card और नया checkbook के लिए apply कर सकते है। 
  • अपने पुराने ATM card को block कर सकते है। 
  • नया credit card के लिए apply कर सकते है।
  • नया FD (Fixed Deposit) खुलवा सकते है या अपने पुराने FD को तुड़वा भी सकते है। 
  • नया insurance plan खरीद सकते है।

इंटरनेट बैंकिंग में हमे काफी सारे services का फायदा दिया जाता है इंटरनेट बैंकिंग में कौन कौन सा सर्विसेज दिया जाता है की बात करे तो वह है।

इंटरनेट बैंकिंग में सर्विसेज की सूचि 

इंटरनेट बैंकिंग पर उपलब्ध सर्विसेज की सूचि यानी Internet banking services lists in hindi की बात करे तो वह है। 

बैलेंस चेक: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप अपने बैंक में जमा राशी को कभी भी चेक कर सकते है। 

फण्ड ट्रान्सफर: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप NEFT, RTGS और IMPS के माध्यम से फण्ड ट्रान्सफर कर सकते है।

बिल भुगतान: इंटरनेट बैंकिंग से आप अपने बिजली बिल, वाटर बिल, गैस बिल, मोबाइल रिचार्ज आदि बिलों का भुगतान कर सकते है।  

बैंक स्टेटमेंट चेक: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप अपने बैंक के transactions history यानि लेन देन सारा विवरण यानी बैंक स्टेटमेंट अपने phone या लैपटॉप पे चेक कर सकते है साथ ही आप इसे PDF या excel sheet में डाउनलोड भी कर सकते है।

e-KYC: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप e-KYC कर सकते है।

नया एटीएम कार्ड अप्लाई: इंटरनेट बैंकिंग से आप नया एटीएम कार्ड अप्लाई कर सकते है। 

एटीएम कार्ड ब्लॉक: यदि किसी करणवश एटीएम कार्ड गुम हो जाए तो ऐसी स्थिति में आप अपने इंटरनेट बैंकिंग की मदद से एटीएम कार्ड को ब्लॉक कर सकते है।

नया चेक बुक अप्लाई: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप नया चेकबुक के लिय भी अप्लाई कर सकते है। 

क्रेडिट कार्ड अप्लाई: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप क्रेडिट कार्ड भी अप्लाई कर सकते है।

FD (Fixed Deposit): इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से आप नया FD खुलवा सकते है या अपना पुराना किसी FD को बंद भी कर सकते है।

Insurance: इंटरनेट बैंकिंग की मदद से आप नया इन्शुरन्स प्लान ले सकते है।

EMI Payment: यदि आपने EMI पे कोई चीज ख़रीदे  है तो उसका भी पेमेंट आप इंटरनेट बैंकिंग की मदद से कर सकते है।

इसके अलावा भी आपको इंटरनेट बैंकिंग में काफी सारे सर्विसेज दिया जाता है।

चलिए अब हमलोग जानते है की Internet banking ke nuksan kya hai? 

इंटरनेट बैंकिंग के नुकसान क्या है?

इंटरनेट बैंकिंग बहुत ही सुरक्षित है फिर भी आए दिन इसमें फ्रॉड जैसी घटनाए सुनने को मिलती ही है। इसमें हैक होने का खतरा होता है और अगर ये हैक हो गया तो आप अपना सारा जमा पूंची गया सकते है।

पर यदि हम कुछ सावधानियों का पालन करे तो इस प्रकार के नुकसान से हम काफी आसानी से अपने आप को बचा सकते है।

इंटरनेट बैंकिंग फ्रॉड से कैसे बचे?

Internet banking fraud se kaise bache? यानी इंटरनेट बैंकिंग उपयोग करते समय ध्यान रखने योग्य बातो की बात करे तो 

  • इंटरनेट बैंकिंग में सबसे महत्वपूर्ण होता है इंटरनेट बैंकिंग का ID और Password इसलिए अपने इंटरनेट बैंकिंग ID और Password को काफी यूनिक बनाए।
  • किसी को अपना इंटरनेट बैंकिंग का ID और Password ना बताए और यदि emergency में किसी अपने को बताना पड़े तो काम होने के बाद जितना जल्दी हो ID और Password change करे।
  • अपने इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड को 90 दिनों के अन्दर एक बार जरुर बदले।
  • लोगो के भीड़ भाड़ वाले जगह पे इंटरनेट बैंकिंग का लॉगइन करने से बचे।
  • पब्लिक इंटरनेट कनेक्शन की मदद से कभी भी इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल ना करे।
  • अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पे हमेशा एक अच्छा antivirus का इस्तेमाल करे।
  • अविश्वनीय app को अपने phone पे इस्तेमाल ना करे।

इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड बनाते समय ध्यान रखने योग्य बाते

इंटरनेट बैंकिंग का पासवर्ड कैसा बनाए? यानी इंटरनेट बैंकिंग का पासवर्ड कैसा होना चाहिए? की बात करे तो 

बैंक की ओर से जो इन्टरनेट बैंकिंग के लिए पासवर्ड को लेकर जो निर्देश दिया गया है उसके हिसाब से इन्टरनेट बैंकिंग का पासवर्ड 8 से 20 characters के बिच का होना चाहिए। पासवर्ड में कम से कम एक alphabet letter (A-Z)(a-z) इसमें आप capital letter या small letter में से किसी का भी इस्तेमाल कर सकते है, एक number digit (0-9) और एक special characters (@#$&*!…) होना चाहिए।

अक्सर ज्यादातर लोग पासवर्ड में अपना नाम के साथ अपना year of birth या कुछ नंबर लगा के पासवर्ड बना लेते है जैसे मान लीजिए किसी का नाम है Rohan और उसका date of birth 01-01-2000 है तो वह अपना पासवर्ड Rohan@2000 या Rohan@123 जैसा कुछ बना लेते है।

आपको बता दे की ऐसा पासवर्ड बहुत ही कमजोर होता कोई भी इसका पता लगा सकता है इसलिय ऐसा पासवर्ड बिलकुल भी ना बनाए।

पासवर्ड ऐसा भी ना बनाए की उसे याद रख पाना मुस्किल हो जाए और पासवर्ड आप भूल जाए।

यदि पासवर्ड में आपको अपना नाम या परिवार के किसी सदस्य के नाम से बनाना है तो name का पहला latter capital ना रखके बाकी का कोई letter को capital बनाए या हो सके तो name में दो latter को capital रखे जैसे roHan या rOhAn

हो सके तो पासवर्ड में दो special character का इस्तेमाल करे और अगर दोनों special character अलग अलग हो तो ज्यादा बेहतर होगा जैसे @# या $& और हो सके तो दोनों special character को एक साथ ना लिखकर अलग अलग करके लिखे।

और number digit में कोई ऐसा number लिखे जो आपको पसंद हो पर उसके बारे में किसी को पता ना हो या कोई ऐसा date जो आपके लिए काफी खास हो या जिससे आप काफी प्यार करते है उसके नाम का पहला letter का alphabet order में number यानी मान लीजिए आपका माँ का नाम है Maya और M alphabet order में 17 में तो आप पासवर्ड में कही पर 17 लिख सकते है। 

कुछ इस प्रकार सुरक्षित पासवर्ड बना सकते है- rOhAn@18&, #RohAn$18, 18#roHan@, RohaN%$18, $roHaN18& आदि 

तो ये थी कुछ बाते जिसे follow करके आप अपना इन्टरनेट बैंकिंग की पासवर्ड को काफी ज्यादा secure यानी सुरक्षित बना सकते है। 

और हां आपको बता दे safety  के लिए अपना इन्टरनेट बैंकिंग पासवर्ड को 90 दिनों के अन्दर एक बार जरुर बदले करे।

निष्कर्ष:-

इंटरनेट बैंकिंग के फायदे और नुकसान के इस आर्टिकल में हमलोगों ने जाना की Internet banking kya hota hai?, internet banking ke fayde kya hai?, internet banking ke nuksan kya hai? साथ ही Internet banking fraud se kaise bache? और internet banking ka password kaisa banaye? के बारे में भी पूरी जानकारी हिंदी में जाना।

इंटरनेट बैंकिंग क्या है?

इंटरनेट बैंकिंग एक इलेक्ट्रॉनिक भुगतान प्रणाली है जिसके द्वारा कोई बैंक या वित्तीय संस्थान अपने website या app के द्वारा अपने ग्राहकों को बैंक से जुड़ी सेवाओ का उपयोग करने की अनुमति देती है।

इंटरनेट बैंकिंग में क्या क्या सेवाए है?

इंटरनेट बैंकिंग में बैलेंस चेक, मनी ट्रान्सफर, स्टेटमेंट डाउनलोड, नया ATM card/ Passbook के लिए apply, FD, Bill payment जैसी अनेक सेवाए है।

इसके अलावा यदि आपके मन में internet banking in hindi से जुड़ी किसी भी प्रकार का प्रश्न है तो वह आप कमेंट करके पूछ सकते है।

Leave a Comment